Anek Shabdon Ke Ek Shabd

Top

भाषा की सरलता ऒर चुस्त शैली के लिये  यह आवश्यक है कि लेखक अपनें विचार कम शब्दों में प्रभावशाली शैली में प्रस्तुत करें। इसलिये कुछ शब्द समूह /या किसी भाव को  दर्शाने के लिये अनेक शब्दों कि जगह पर एक ही शब्द का प्रयोग उचित माना जाता है।


 Vakaya Anek Shabdon Ke Ek Shabd
 अपने देश में दुसरे देश से समान लाना |    आयात 
 अपने देश में दुसरे देश से समान लाना  निर्यात
 अच्छे चरित्र वाला  सच्चरित्र
 आगे होनेवाला  भावी
 अपने बल पर निर्भर रहने वाला  स्वावलम्बी
 अनुकरण करने योग्य  अनुकरणीय
 अर्थ या धन से सम्बन्ध रखने वाला  आर्थिक
 आलोचना करने वाला  आलोचक
 आँखों के सामने  प्रत्यक्ष
 अपने परिवार के साथ सपरिवार
 आकाश या गगन चुमनेवाला (काफ़ी ऊँचा) आकाशचुम्बी, गगनचुम्बी
 आयोजन करने वाला व्यक्ति आयोजक
 अपने कर्तव्य का निर्णय न कर सकने वाला किंकर्तव्यविमूढ़
 अनुचित या बुरा आचरण करने वाला दुराचारी
 आवश्यकता से अधिक वर्षा अतिवृष्टि
 अभिनय करने वाला पुरुष अभिनेता
 अभिनय करने वाली स्त्री अभिनेत्री
 अभी-अभी जन्म लेने वाला नवजात
 अपनी इच्छा से दूसरों की सेवा करने वाला स्वयंसेवक
 अपने पद से हटाया हुआ पदच्युत
 आय से अधिक व्यर्थ खर्च करने वाला फिजूलखर्ची
 उपचार या ऊपरी दिखावे के रूप में होने वाला औपचारिक
 उसी समय का तत्कालीन



Examples

Few more examples:

ईश्वर में आस्था रखने वाला- (आस्तिक)

ईश्वर पर विश्वास न रखने वाला- (नास्तिक)

इतिहास से सम्बन्ध रखने वाला- (ऐतिहासिक) 

इन्द्रियों को वश में करने वाला- (इन्द्रजित)

एक भाषा की लिखी हुई बात को दूसरी भाषा में लिखना या कहना- (अनुवाद)

ऐसा ग्रहण जिसमें सूर्य या चन्द्र का पूरा बिम्ब ढँक जाय- (खग्रास)

ऐसा जो अंदर से खाली हो- (खोखला)

एक सप्ताह में होने वाला- (साप्ताहिक)

एक महीने में होने वाला- (मासिक)

कम खर्च करने वाला- (मितव्ययी)

कम बोलनेवाला- (मितभाषी)

कठिनाई से समझने योग्य- (दुर्बोध)

कठिनता से प्राप्त होने वाला- (दुर्लभ) 

क्रम के अनुसार- (यथाक्रम)

कार्य करनेवाला- (कार्यकर्त्ता)

किसी कार्यालय या विभाग का वह अधिकारी - (अधीक्षक)

किसी कार्य के लिए दी जाने वाली आर्थिक  सहायता- (अनुदान)

किसी कार्य को बार-बार करना- (अभ्यास)

किसी व्यक्ति या सिद्धान्त का समर्थन करने वाला- (अनुयायी)

किसी एक पक्ष से संबंधित- (एकपक्षीय)

किसी की कृपा से पूरी तरह संतुष्ट- (कृतार्थ)

किसी के बाद उसकी संपत्ति प्राप्त करने वाला- (उत्तराधिकारी)

किसी को सावधान करने के लिए कही जाने वाली बात- (चेतावनी)

कुछ जानने या ज्ञान प्राप्त करने की चाह- (जिज्ञासा)

किसी देवता पर चढ़ाने के लिए मारा जाने वाला पशु- (बलि)

किसी विषय को विशेष रूप से जाननेवाला- (विशेषज्ञ)

गृह (घर) बसाकर स्थित (रहनेवाला)- (गृहस्थ)

ग्राम/ गाँव  का रहनेवाला- (ग्रामीण)

चार वेदों को जानने वाला- (चतुर्वेदी)

चारों ओर जल से घिरा हुआ भू-भाग- (टापू)

चुनाव में अपना मत देने की क्रिया- (मतदान)

छात्रों के रहने का स्थान- (छात्रावास)

छोटे कद का आदमी- (बौना)

छः मुँहों वाला- (षण्मुख/षडानन)

जो कभी न मरे- (अमर)

जो अक्षर (पढ़ना-लिखना) जानता है- (साक्षर)

जो पढ़ा-लिखा न हो- (अपढ़, अनपढ़) 

जो उच्च कुल में उत्पन्न हुआ हो- (कुलीन)

जो सब जगह व्याप्त हो- (सर्वव्यापक)

जो मान-सम्मान के योग्य हो- (माननीय) 

जो किसी का पक्ष न ले- (तटस्थ)

जो कानून के अनुसार हो- (वैध)

जो स्वयं पैदा हुआ हो- (स्वयंभू)

जो हो सकता- (संभव)

जो नहीं हो सकता- (असंभव)

जो पुरुष कविता रचता है- (कवि)

जो स्त्री कविता लिखती है- (कवयित्री)

जो किये गये उपकारों को जानता या (मानता) है- ( कृतज्ञ)

जो केवल फल का आहार करता है- (फलाहारी)

जो मांस का आहार करता है- (मांसाहारी)

जो शाक (सब्जी )का आहार करता है-(शाकाहारी)

जो मन को हर ले- (मनोहर)

जो पर (दूसरों) के अधीन है- (पराधीन)

जो संगीत जानता है- (संगीतज्ञ)

जो देखा नहीं जा सकता- (अदृश्य)

जो चक्र धारण करता है- (चक्रधर)

जो इच्छा के अधीन है- (इच्छाधीन)

जो पांचाल देश की है - (पांचाली)

जो अपनी बात से न टले- (अटल)

जो सबके मन की जनता हो- (अंतर्यामी)

जो पूरा या भरा हुआ न हो- (अपूर्ण)

जो पहले कभी घटित न हुआ हो- (अघटित)

जो अपनी इच्छा पर निर्भर हो- (ऐच्छिक)

जो कटु बोलता है- (कटुभाषी)

जो चर्चा का विषय हो- (चर्चित)

जो तेजहीन हो- (निस्तेज)

जो अपने लाभ या स्वार्थ का ध्यान न रखता हो- (निःस्वार्थ)